चलते चलते

UP पुलिस की जीप से टकराने वाले पेड़ पर हत्या और दंगे भड़काने की FIR दर्ज

29, Dec 2019 By Fake Bank Officer

लखनऊ. उत्तर प्रदेश पुलिस ने किसी भी तरह की हिंसा और दंगा भड़काने वालों के खिलाफ कड़ा रुख अपना लिया है। दोषी चाहे इंसान हो या जानवर या कोई और, UP पुलिस ने जीरो टोलरेंस की नीति अपना ली है। पहले ही 3000 से अधिक व्यक्तियों पर अलग-अलग मामलों में मुकदमे दर्ज कर दिए गये हैं। ताजा मामले में तो पुलिस ने एक कदम आगे बढ़कर एक पेड़ पर भी दंगा भड़काने और माहौल खराब करने की प्राथमिकी दर्ज की है।

jeep
हादसे के बाद जीप की हालत

मामला तब बिगड़ा जब UP पुलिस की एक जीप बेकाबू होकर सड़क किनारे स्थित बरगद के पेड़ से जा टकराई, तेज टक्कर से जीप में सवार पुलिस के सिपाहियों को मामूली चोट भी आई। पहले तो पुलिस ने आत्मरक्षा में पेड़ पर दनादन गोलियाँ बरसाई लेकिन जब पेड़ पर इसका कोई असर नही हुआ तो पुलिस ने पेड़ पर IPC की सारी धाराएँ लगाकर FIR दर्ज कर दी।

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना था कि पेड़ तो शांति से सड़क के किनारे खड़ा था और उसने कोई हरकत नही की थी। बल्कि पुलिस की गाड़ी ही जाकर उससे टकराई। कई विपक्षी नेताओं और मानवाधिकार संगठनों ने पुलिस की इस कार्यवाही को एकतरफा बताकर निष्पक्ष जाँच  की मांग की है। हालाँकि पुलिस ने इन आरोपों को नकारते हुए कहा कि पेड़ की गतिविधियाँ काफी दिनों से संदिग्ध थी।

UP पुलिस के कुख्यात इंस्पेक्टर चुलबुल पांडे ने फ़ेकिंग न्यूज को बताया कि, “दंगे भड़काने वाले किसी भी प्रजाति को बख्शा नही जाएगा चाहे वह पेड़ ही क्यों ना हो? पुलिस इन मामलों में इंसान और पेड़ पौधों में भेदभाव नही करती। FIR में तो हमने सारी धाराएँ डाल दी हैं, अब जाँच के बाद देखेंगे कि पेड़ को किस धारा के तहत अंदर करना है!”



ऐसी अन्य ख़बरें