चलते चलते

'हमारे इलाके में घुसने की हिम्मत कैसे हुई?'- कहकर देशी बीमारियों ने तबियत से धोया करोना वायरस को!

13, Mar 2020 By चीखता सन्नाटा

नयी दिल्ली. भारत में कई लोगों को संक्रमित करने वाले कोरोना पर आज देसी बीमारियों का गुस्सा फूट पड़ा। दिल्ली के एक सरकारी अस्पताल में अपना चेकअप कराने आये रमन नाम के मरीज में जैसे ही कोरोना के लक्षण दिखे, देसी बीमारियों ने उसे घेरकर तबीयत से धो डाला।

corona-virus
कोरोना वायरस

रमन की जाँच में जुटे डॉ. रामभरोसे ने माईक्रोस्कोप से देखी इस पूरी घटना को ‘चीखता सन्नाटा’ को बताते हुए कहा, “रमन नॉर्मल हालत में यहाँ जांच के लिए आया था। खाँसी, जुकाम, मलेरिया, कैंसर, तपेदिक, अस्थमा जैसी छोटी-मोटी नॉर्मल बीमारियों के अलावा उसे चिंता की कोई बात नहीं थी!”

“लेकिन जब हमने जाँच के लिए नमूने लिए तो उसमें दबे-कुचले कोरोना वायरस के अंश मिले!” – डॉ. साब ने रिपोर्ट दिखाते हुए कहा। “इसके बाद मैंने अपनी पूरी टीम को कोरोना वायरस की जाँच में लगा दिया।”

“पहले हमें लगा कि शायद यह कोरोना वायरस का नया रूप है! लेकिन फिर हमने देखा कि रमन के शरीर में बिखरे अन्य वायरस और कीटाणु यकायक कोरोना वायरस पर चढ़ गए और उसे मार-मारकर अधमरा कर दिया! हमने सुना कि वो चिल्ला रहे थे कि हमारे इलाके में घुसने की तूने हिम्मत कैसे की! अब तू नही बचेगा! कोरोना बेचारा उनके सामने रोता रहा, गिड़गिड़ाता रहा लेकिन उन्होंने उसे नही छोड़ा।”

फिलहाल डॉ. रामभरोसे अपनी टीम के साथ कोरोना की नाज़ुक हालत पर नज़र बनाये हुए हैं। विदेश मंत्रालय और गृह मंत्रालय ने अस्पताल से इस मामले की पूरी रिपोर्ट माँगी है। मामले की भनक लगते ही मानवाधिकार संगठन भी हरकत में आ गए हैं और उन्होंने मामले की जाँच सीबीआई को सौंपने की माँग तेज़ कर दी है।

वहीं, दिल्ली पुलिस इसे दो गुटों की झड़प बताकर मामले को रफा-दफा करने की कोशिश कर रही है।

“यह कोई लोकल वायरस है, जो कोरोना का नाम लेकर देश में उन्माद फैलाने की कोशिश कर रहा है! फिलहाल, हम उसके पासपोर्ट और वीजा की जाँच कर रहे हैं!” – पुलिस के एक आला अफसर ने अपना नाम छुपाने की शर्त पर हमें बताया। इसी बीच, पाकिस्तान ने पूरे मामले को तूल देते हुए इसे संयुक्त राष्ट्र में उठाने का मन बना लिया है।



ऐसी अन्य ख़बरें