Friday, 22nd November, 2019

चलते चलते

दिल्ली के झपटमारों ने खाई क़सम- "आम लोगों पर ही डालेंगे हाथ, नेताओं के रिश्तेदारों की तरफ़ देखेंगे भी नहीं!"

16, Oct 2019 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. प्रधानमंत्री मोदी की भतीजी का बैग छीनने वाले झपटमारों के 24 घंटे में ही पकड़े जाने से झपटमार बिरादरी में हड़कंप मच गया है। झटपमारों ने क़सम खाई है कि आज के बाद कभी किसी नेता की फ़ैमिली पर भूलकर भी हाथ नहीं डालेंगे।

Modi-niece-purse-snatcher
पुलिस के सामने क़सम खाता स्नैचर

भारतीय झपटमार परिषद (बीजेपी) के अध्यक्ष मशहूर चैन स्नैचर चैन सिंह ने आनन-फानन में संगठन की बैठक बुलाई, जिसमें यह प्रस्ताव पारित हुआ। बैठक में नोनू के परिवार का हुक्का-पानी बंद करने का भी फ़ैसला हुआ, जिसकी वजह से झपटमार बिरादरी को इतनी जल्दी पकड़े जाने की ज़लालत झेलनी पड़ी।

बैठक के बाद मीडिया से बात करते हुए चैन सिंह ने कहा, “जब हमारा काम आम लोगों को लूटकर चैन से चल रहा है तो किसी वीआईपी के रिश्तेदार को लूटने की क्या ज़रूरत है? आम लोगों को लूटना एकदम सेफ़ है क्योंकि उनका तो पुलिस केस भी दर्ज़ नहीं करती, हमें पकड़ने के बजाय उल्टा उन्हें ही तंग करती है। और अगर कभी ग़लती से हमें पकड़ भी ले तो अपना हिस्सा लेकर छोड़ देती है।”

“और हमारी नेताओं और उनके रिश्तेदारों से भी अपील है कि वे भी आम लोगों की तरह अकेले ना घूमें, हमें कन्फ़्यूजन हो जाता है। हमारे बंदे आम लोग समझ के हाथ डाल देते हैं और फिर मारे जाते हैं।” यह कहकर चैन सिंह व्हॉट्सएप पर इलाक़े के एसएचओ का गुड मॉर्निंग मैसेज पढ़ने लगे।

उधर, इस घटना से पुलिस भी आग-बबूला है क्योंकि नोनू की बेवकूफ़ी की वजह से कई पुलिसवालों की नौकरी पर ख़तरा मँडरा रहा है। ऊपर से दीवाली के कमाई वाले सीज़न में 700 पुलिसवालों को अपनी कमाई छोड़कर उसे पकड़ने के लिए भागना पड़ा।



ऐसी अन्य ख़बरें