Tuesday, 19th February, 2019

चलते चलते

लंदन के बंगले वाले कागज़ात वाड्रा ने लेडीज़ पर्स में छुपाए, ईडी वाले ढूँढने में नाकाम

07, Feb 2019 By banneditqueen

नयी दिल्ली. कब्ज़ा मास्टर रॉबर्ट वाड्रा एक फिर सुर्ख़ियों में हैं। कल से ही ईडी उनसे लंदन वाले बंगले के बारे में पूछताछ कर रही है लेकिन अभी तक क़ामयाबी हाथ नहीं लगी है। बताया जा रहा है कि वाड्रा ने बंगले के कागज़ात किसी महिला के पर्स में छुपा दिये हैं।

Vadra
पर्स में पेपर छुपाकर मुस्कुराते वाड्राजी

ईडी के एक अधिकारी ने नाम ना छापने की शर्त पर फ़ेकिंग न्यूज़ को बताया कि “इतने सालों में हमने ऐसा केस नहीं देखा। कोई भी सामान कहीं भी छुपा हो, हमारी नज़रों से नहीं बच पाता। लेकिन इस पर्स को बरामद करने के दो दिन बाद भी हम उन कागज़ात को नहीं ढूंढ पाये हैं।”

यह भी पता चला है कि पर्स में से निकले सामान की गिनती 100 से ऊपर हो चुकी है, जिनमें मेकअप के सामान से लेकर मोबाइल फ़ोन, सुई धागा, बिस्कुट, च्यूईंगम, दूध की बॉटल और कई तरह की चाबियाँ शामिल हैं। इसके अलावा उस पर्स में यूपीए काल की कुछ क्लीन चिट्स भी बरामद हुई हैं। पर्स में 10 खुली पॉकेट और 20 चेन वाली पॉकेट्स हैं, जिनमें से ई़डी वाले अभी तक सिर्फ़ 6 पॉकेट्स की ही जाँच कर पाये हैं।

उस अधिकारी ने यह भी जानकारी दी कि “हमने उस पर्स को एक्स-रे मशीन के नीचे से भी निकाला परंतु बहुत ज्यादा सामान होने की वजह से मशीन भी कुछ पकड़ नहीं पायी। इसलिये अब हम पुरातत्वविदों की मदद लेने पर विचार कर रहे हैं।”

ई़डी के सूत्रों का मानना है कि यह पर्स प्रियंका या सोनियाजी में से किसी का हो सकता है। उधर, कांग्रेस ने किसी महिला के पर्स की छानबीन को महापाप करार दिया है। रणदीप सिंह सूजेवाला ने कहा है कि “यह समस्त महिला समुदाय का अपमान है। आज तक मैंने खुद अपनी पत्नी का पर्स चेक नहीं किया और मोदी जी एक परायी महिला का पर्स चेक करा रहे हैं, जो बेहद निंदनीय है।”

 इस घटना के बाद केंद्र सरकार एक नया क़ानून बनाने पर विचार कर रही है, जिसके बाद महिलाएँ 10 से ज़्यादा पॉकेट वाले पर्स इस्तेमाल नहीं कर पायेंगी।



ऐसी अन्य ख़बरें