Thursday, 15th November, 2018

चलते चलते

बीजेपी नेता का विवादित बयान, कहा- "आईपीएल से होता है देश का विभाजन"

16, Apr 2018 By Guest Patrakar

पटना. भाजपा के नेता और विवादित बयानों का ऐसा रिश्ता है, जैसे शाहरुख़ और फ़ेयरनेस क्रीम का! दोनों एक-दूजे के बिना रह ही नहीं सकते! कल शाम बिहार के एक बीजेपी नेता ने भरी सभा में कह दिया कि “IPL से देश का विभाजन होता है।” यह सुनकर लोग हँसने लगे।

giriraj singh
विवादित बयानों के सम्राट बीजेपी नेता

बीजेपी नेता गिरिराज सिंह ने एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि “आईपीएल नाम की ये लीग एक देशद्रोही लीग है, जो देश में फूट डालती है। इसे फ़ौरन बंद कर देना चाहिए। यह काँग्रेस के समय में शुरु हुई थी क्योंकि कांग्रेस देश को बाँटना चाहती थी। लोग इसमें चेन्नई, मुंबई और राजस्थान के नाम पर लड़ते है और कुछ लोग उसे ‘फ़ैन-वॉर’ बोलकर उसकी आड़ में अपने एड बेच देते है। इस बयान के लिए अगर पार्टी मुझे निकाल भी देती है तो मुझे कोई ग़म नहीं होगा!”

इस बयान की IPL चेयरमैन राजीव शुक्ला ने कड़ी निंदा की है। उन्होंने कहा है कि “मोदी जी को अपने नेताओं को समझाना चाहिए कि ऐसे बयानों से उन्हें देश में किस क़िस्म की बेइज़्ज़ती सहनी पड़ती है। आईपीएल देश को तोड़ता नहीं, बल्कि जोड़ता है। और केवल देश ही नहीं यह विश्व भर के खिलाड़ियों और लोगों को भारत से जोड़ने का प्रयास करता है। यह खिलाड़ियों के अंदर छुपी ईर्ष्या को भी दूर कर देता है क्योंकि जो खिलाड़ी इंटरनेशनल टीम में रहते हुए अपने किसी साथी प्लेयर को गाली नहीं दे पाता, वो IPL में उसके ख़िलाफ़ सारी भड़ास निकाल लेता है।”

गिरिराज ने अपने बयान से ना केवल फ़ैन्स की गालियाँ बल्कि खिलाड़ियों का ग़ुस्सा भी मोल ले लिया है। सूत्रों की माने तो पीयूष चावला, यूसुफ़ पठान और रॉबिन उथप्पा जैसे खिलाड़ी जो केवल IPL में ही दिखायी देते हैं, वे गिरिराज के इस बयान से ख़ासे नाराज़ हैं। उनका कहना है कि “हमें साल में एक बार खेलने को मिलता है और ये नेता लोग हमसे वो मौका भी छीन लेना चाहते हैं।”

सुनने में यह भी आ रहा है कि सट्टेबाज़ों की यूनियन भी गिरिराज के ख़िलाफ़ एक मोर्चा निकालने की तैयारी में है क्योंकि IPL के समय ही उनकी सबसे ज़्यादा चाँदी होती है।”



ऐसी अन्य ख़बरें