Thursday, 27th June, 2019

चलते चलते

जो भी 3.50 लाख करोड़ के चेक पर चुपचाप साइन करेगा, वही बनेगा अगला RBI गवर्नर: वित्त मंत्रालय

11, Dec 2018 By Fake Bank Officer

नयी दिल्ली. भारतीय रिज़र्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल के इस्तीफे के बाद सरकार ने नए गवर्नर की तलाश तेज कर दी है। वित्त मंत्रालय को एक ऐसे अर्थशास्त्री की तलाश है जो देशहित में 3.50 लाख करोड़ के चेक पर बिना सोचे-समझे साइन कर सरकार को दे सके।

Arun Jaitley Fog
जिसे गवर्नर बनना है आगे आओ!

फ़ेकिंग न्यूज़ से बात करते हुए वित्त मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि गवर्नर पद के इच्छुक व्यक्तियों के आवेदन मंगाए जा रहे हैं, उम्मीदवार भले ही अर्थशास्त्री हों या ना हों पर उसे साइन करना आना चाहिए।

हाँ, अर्थशास्त्र का ज्ञान रखने वालों को नियुक्ति में प्राथमिकता दी जाएगी। वैसे भी अगले पाँच महीने गवर्नर को सिर्फ साइन ही करने हैं।

ताज़ा सूत्रों से पता चला है कि अगले RBI गवर्नर के लिए बाबा रामदेव और श्रीश्री रविशंकर जी का नाम सबसे आगे चल रहा है। भारत सरकार इस बार किसी देशी अर्थशास्त्री को मौका देना चाहती है और ये दोनों ही इस कसौटी पर खरे उतरते हैं। हालाँकि, रुपये की कीमत पर भविष्यवाणी करके श्रीश्री खुद को बाबा से बेहतर साबित कर चुके हैं और उन्हें यह भी पता है कि तीन लाख पचास हज़ार करोड़ में कितने शून्य होते हैं।

वित्त मंत्रालय उन सभी लोगों को RBI गवर्नर बनने का न्यौता भेज रही है, जिन्होंने कभी न कभी अपने पूरे होशोहवास में नोटबन्दी को एक सही फैसला बताया था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उर्जित पटेल के इस्तीफे पर कहा कि, “जब भी उन्हें कोई बली का बकरा ढूंढना होगा, मैं पटेल को मिस करूँगा!” साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि अगर गवर्नर के पद के लिए कोई उपयुक्त व्यक्ति नही मिला तो यह जिम्मेदारी भी वो खुद ही उठा लेंगे।



ऐसी अन्य ख़बरें