Sunday, 5th April, 2020

चलते चलते

सत्या नडेला के CAA कमेंट से आग-बबूला हुआ युवक, तोड़ डालीं अपने ही घर की सारी 'Windows'

15, Jan 2020 By jd

एजेंसी. ‘नागरिकता संसोधन कानून’ आने के बाद पूरे देश में काफी हंगामा हो रहा है, कहीं कोई बस जला रहा है तो कहीं कोई पाँच डिग्री तापमान में धरना दे रहा है। सोशल मीडिया पर भी लोग बावले हो चुके हैं, ‘Hmmm’ और ‘ओके’ लिखने से भी कतराने वाले लोग आजकल इतने बड़े-बड़े पैराग्राफ में मैसेज भेज रहे हैं जैसे दसवीं कक्षा की परीक्षा में कॉपी भरने के लिए लिख रहे हों!

vandal-house
सुरेश का मकान!

इसी बीच ‘माइक्रोसॉफ्ट’ के सीईओ सत्या नडेला ने भी अपनी व्यक्तिगत राय दी है, जिसको सोशल मीडिया पर ऐसे पेश किया गया जैसे ‘CAA-NRC देश के लिए बुरा है!’ यह खबर तो ऑस्ट्रेलिया के जंगल की आग से भी ज्यादा तेजी से फैली। CAA का विरोध करने वाले लोगों ने नडेला को ‘समझदार’ व्यक्ति कहकर संबोधित किया तो वहीं इसका विरोध करने वालों ने उन पर जमकर गुस्सा निकाला।

कुछ लोगों ने तो यहाँ तक कह दिया कि अब वो ‘माइक्रोमैक्स’ का टीवी तक नहीं खरीदेंगे, हालाँकि जब उन्हें बताया गया कि नडेला ‘माइक्रोसॉफ्ट’ का CEO है ‘माइक्रोमैक्स’ का नहीं.. तो उन्होंने कहा कि, “ठीक है, हम अपने एंड्रॉयड फोन मे विंडो को अनइंस्टाल कर देंगे! ना रहेगा सौ मन तेल ना राधा नाचेगी!’

बाद में उन्हें फिर से बताया गया कि एंड्रॉयड फोन अलग होता है और विंडो का फोन अलग! वैसे भी आप क्या Windows फोन को बंद करोगे, वो तो खुद बंद होने की कगार पर खड़ा है।

एक युवक जो टेक्नोलॉजी से थोड़ा बहुत अवगत था, उसने अपने लैपटॉप से Windows का ऑपरेटिंग सिस्टम हटाकर ‘उबुन्टु’ इंस्टॉल कर लिया, हाँ ये बात अलग है कि पिछले तीन घंटे से वो अपने लैपटॉप पर ‘C:’ ड्राइव ढूंढने की कोशिश कर रहा है। सुरेश नाम के एक लड़के ने तो Windows से अपना बदला पूरा करने के लिए घर की सारी खिड़कियों को ही तोड़ डाला। बाद में थोड़ा समय निकालकर अपनी कार की Windows को भी फोड़ डाला।

हालाँकि नडेला ने बाद में सफाई देते हुए बयान जारी किया कि, ‘मैंने एक सामान्य टिप्पणी की थी, भारत के नये कानून के संबंध में मैंने कुछ नहीं कहा है!’ फिर भी सोशल मीडिया लड़ाके नहीं माने और दोनों ओर से ‘मीम’ बनाकर बड़ी मात्रा में शेयर करने लगे।



ऐसी अन्य ख़बरें