Sunday, 21st July, 2019

चलते चलते

संयुक्त राष्ट्र ने मान लिया भारत को 'विश्वगुरु', कहा- "और बच्चों को मारने की ज़रूरत नहीं!"

20, Jun 2019 By बगुला भगत

न्यूयॉर्क. पिछले कई सालों से की जा रही हमारी मेहनत का फल आख़िरकार आज हमें मिल ही गया, जब संयुक्त राष्ट्र ने भारत को ऑफ़िशियली ‘विश्वगुरु’ का दर्ज़ा प्रदान कर दिया।

Bihar-AES1
आख़िर हम बन ही गये विश्वगुरु!

युनाइटेड नेशंस ने भारत को विश्वगुरु मानते हुए आज एक विज्ञप्ति जारी की है, जिसमें कहा गया है कि “भारत ने अपनी मेहनत से ‘विश्वगुरु’ बनने का वो मुकाम हासिल कर ही लिया, जिसके लिए वो इतने सालों से मेहनत कर रहा था। और ये मुकाम मिला है उसे अपने बच्चों की बदौलत!”

“क्योंकि जितने बच्चे भारत में मरते हैं, दुनिया के किसी और देश में नहीं मरते। कभी भूख से, कभी ऑक्सीजन की कमी से, कभी सीढ़ी की कमी से तो कभी इलाज की कमी से!” -इस विज्ञप्ति में आगे लिखा है।

“और इस उपलब्थि का श्रेय जाता है भारत के नेताओं को! यह नेताओं की दिन-रात की मेहनत ही है कि इस देश में बच्चे मरते ही जा रहे हैं। कई देशों की तो इतनी आबादी भी नहीं है, जितने एक साल में भारत में बच्चे मर जाते हैं।” –

संयुक्त राष्ट्र के इस एलान के बाद देश के सभी दलों में इस बात का श्रेय लेने की होड़ मच गयी है। विदेश में छपी हर भली-बुरी बात को ‘मोदीजी का डंका’ समझने वाले बीजेपी समर्थकों ने तो इस बात पे लड्डू भी बाँटने शुरु कर दिये हैं।

दिल्ली के लाजपत नगर में लड्डू बाँट रहे तेजिंदर चुग्गा नाम के एक बीजेपी सपोर्टर ने कहा, “मोदीजी की वजह से आज हम एक और फ़ील्ड में नंबर वन हो गये…ओये बल्ले…बल्ले!” यह कहकर चुग्गा डीजे पर ‘अपना मोदी आयेगा’ बजवाकर नाचने लगा।



ऐसी अन्य ख़बरें