Sunday, 8th December, 2019

चलते चलते

सबके हिस्से की आलोचना अकेले सहने के लिए गौतम गंभीर को ‘थैंक यू पार्टी’ देंगे बाकी सांसद

17, Nov 2019 By किल बिल पांडे

नयी दिल्ली.  दिल्ली में प्रदूषण पर होने वाली बैठक, अधिकारियों और सदस्यों की गैर-मौजूदगी के कारण रद्द करनी पड़ी है। इस बैठक में गौतम गंभीर, हेमा मालिनी समेत 29 नेताओं को शामिल होना था लेकिन पहुँचे सिर्फ ‘चार’।

gautam-gambhir
पोहा-जलेबी दबाते गंभीर

बाकी चौबीस सांसद किसी तरह बच तो गए लेकिन ‘गंभीर’ की किस्मत उतनी अच्छी नहीं थी, वो सरेआम इंदौर में कमेन्ट्री करते तो दिखे ही, साथ में पोहा और जलेबी ठूँसते हुए तस्वीरों में कैद भी हो गए। इन तस्वीरों के सार्वजनिक होते ही वो सबके निशाने पर आ गए।

लोगों ने बाकी लोगों का गुस्सा भी गंभीर पर उतारना शुरू कर दिया। चौतरफा आलोचना झेल रहे गंभीर के लिए इस बीच एक राहत की खबर आई है।

जो लोग मीटिंग में नहीं पहुँचे थे, उन सदस्यों ने पत्र लिखकर सबके हिस्से की आलोचना अकेले सहने के लिए गंभीर की सराहना की है, अन्य सांसदों ने उन्हें ‘बहादुर’ वगैरह भी कह दिया है, साथ ही उनके सम्मान में एक ‘थैंक यू पार्टी’ के आयोजन का भी ऐलान किया है।

RO बेचने के लिए मशहूर एक अनुपस्थित सांसद ने फ़ेकिंग न्यूज़ को बताया कि, “हम ‘लापरवाह’ हो सकते हैं लेकिन ‘कंजूस’ नहीं हैं, गौतम ने हम पर बहुत बड़ा एहसान किया है! एक पार्टी तो देना बनता है!

सच कहूँ तो ‘गंभीर’ आज असली सांसद बना है क्योंकि एक सच्चे सांसद की यही पहचान है कि भले ही गलती किसी और की हो ,गाली उसे ही खानी पड़ती है! वेलकम टू द क्लब गंभीर!” -कहते हुए सांसद ने रिपोर्टर को RO थमा डाला।

वहीं सार्वजानिक ‘पंचिंग बैग’ बने गंभीर ने मीटिंग में शामिल ना होने पर सफाई देते हुए कहा कि, “मैं अपने घर से निकला तो मीटिंग के लिए ही था लेकिन दिल्ली में फैले कोहरे के कारण रास्ता साफ-साफ नज़र ही नहीं आ रहा था! ना जाने कैसे मैं इंदौर पहुँच गया, रात भर गाड़ी चला रहा व्यक्ति क्या अब सुबह ढंग से नाश्ता भी नहीं कर सकता?” -गंभीर ने तर्क दिया।

उधर, अपुष्ट खबरों के अनुसार सांसदों ने पार्टी के लिए पोहा और जलेबी लाने का काम गंभीर को ही सौंप दिया है।



ऐसी अन्य ख़बरें