Tuesday, 15th October, 2019

चलते चलते

अफवाह फैलाने वालों पर बरसे 'ISRO' चीफ, कहा- "रणवीर सिंह को 'चंद्रयान-2' में बाँधा नहीं गया है!"

22, Jul 2019 By Ritesh Sinha

श्रीहरिकोटा. एक तो ‘इसरो’ के सभी वैज्ञानिक ‘चंद्रयान-2’ से जुड़ी तैयारी पूरी करने व्यस्त हैं तो वहीँ दूसरी ओर उन्हें अफवाह फैलाने वालों से भी निपटना पड़ रहा है। रणवीर सिंह की हरकतों से परेशान कुछ लोगों ने यह अफवाह फैला दी थी कि चंद्रयान-2 के रॉकेट में रणवीर सिंह को बाँध दिया गया है ताकि उन्हें पृथ्वी से दूर ले जाया जा सके। ऐसा करने से भारत के लोगों को उनके कहर से बचाया जा सकेगा।

ranveer
अभी नहीं मिलेगा छुटकारा

हालाँकि, इसरो चीफ ने स्पष्ट कर दिया है कि ये एक कोरा झूठ है, रणवीर सिंह अंतरिक्ष में नहीं जा रहे हैं। इसका मतलब यह हुआ कि अब वो आगे भी भारतीयों की छाती में मूँग दलते  रहेंगे।

दरअसल, रणवीर सिंह की हरकतों से परेशान लोगों की संख्या देश में तेज़ी से बढ़ रही है। कभी वो अपने रंग-बिरंगे कपड़ों से, कभी उटपटांग ‘डांस’ से तो कभी अपनी ‘कमेंट्री’ से, वो लोगों के दिलों में खौफ फैलाते रहे हैं।

उधर, सरकार ने भी वोट बैंक के चक्कर में यह वादा कर दिया था कि हम इस मुद्दे पर कोई ठोस कदम उठाएंगे ताकि देश की मासूम जनता को उनके कहर से बचाया जा सके।

इसी योजना के तहत सरकार ने रणवीर को अंतरिक्ष में भेजने का प्लान बनाया था ताकि वो ऊपर जाकर एलियंस को परेशान करते रहें।

लेकिन इसरो के वैज्ञानिकों ने तकनीकी कारणों का हवाला देते हुए रणवीर सिंह को रॉकेट में बाँधने से मना कर दिया। इसरो चीफ के. सीवान ने बताया कि. “देखिए! हमारे पास पहले से बहुत काम है, प्रक्षेपण की बारीकियों पर नज़र रखनी पड़ रही है! ऐसे में इस तरह की अफवाह फैलाकर हमें टेंशन ना दिया जाए!

अगर सरकार वाकई में रणवीर सिंह को सबक सिखाना चाहती है तो वो उनका निजी मामला है, हम इस मुद्दे पर कुछ नहीं कर सकते! मान लो हमने उन्हें रॉकेट के साथ भेज भी दिया तो वो ‘विक्रम’ या ‘प्रज्ञान’ से दोस्ती करके उसे भी बिगाड़ देगा! सोहबत का असर यू नो!” -सीवान साब ने अपनी बात पूरी की।



ऐसी अन्य ख़बरें