Tuesday, 22nd October, 2019

चलते चलते

न्यूजीलैंड की हार से आहत हुआ बेगूसराय का युवक, कहा- "कभी 'इंग्लैंड' नहीं जाऊँगा!"

15, Jul 2019 By Ritesh Sinha

बेगूसराय. टिकेश्वर कुमार, जो कल के मैच में न्यूजीलैंड को सपोर्ट कर रहा था, इंग्लैंड की जीत से खासा नाराज है, उसने तो यहाँ तक कह दिया है कि अब वो कभी इंग्लैंड ही नहीं जाएगा। हालाँकि ये बात अलग है कि ‘टिकेश’ के इंग्लैंड जाने की संभावना उतनी ही है जितना तेजस्वी यादव के प्रधानमंत्री बनने की। फिर भी टिकेश ने अपनी ओर से पहल करते हुए इंग्लैंड को ठेंगा दिखा दिया है।

bihar-youth
मैच देखता टिकेश

पूरे ढाई मिनट तक गहराई से रिसर्च करने के बाद टिकेश ने न्यूजीलैंड को सपोर्ट करने का फैसला किया था। इसका एक कारण यह भी था कि वो अंग्रेज़ों से बदला लेना चाहता था, लेकिन उसके उम्मीदों पर उस समय पानी फिर गया जब न्यूजीलैंड के प्लेयर्स भी ‘धोनी’ और ‘कार्तिक’ ही निकले।

फ़ेकिंग न्यूज़ से बात करते हुए उसने बताया कि, “ये साले इंग्लैंड वाले, जालसाजी करके जीते हैं, इनकी आदत अब तक नहीं गई! ये कोई रूल है भाईसाब? अरे जो हमें समझ में ना आये वो सारे ‘रूल’ खराब है, सबको हटाओ! अंपायर भी उनसे मिले हुए हैं, मैं तो कहता हूँ कि इसकी जाँच होनी चाहिए! मैं जिसे सपोर्ट कर रहा था वो कैसे हार सकती है यार?

“मेरा मूड इतना खराब है कि अब मैं इंग्लैंड में कदम तक नहीं रखूँगा! महारानी एलिजाबेथ अगर मेरे लिए विशेष विमान भेजेगी ना, तब भी नहीं जाऊँगा! हवाई जहाज़ का पैसा गिरिराज सिंह दे देंगे, तो भी नहीं! भाड़ में गया ‘बिग-बेन’ -टिकेश ने बड़े आत्मविश्वास से कहा। वहीँ, टिकेश के कुछ दोस्तों ने भी इंग्लैंड की तरफ मुड़कर ना देखने की कसम खाई है।

उधर, टिकेश के पैरेंट्स का कुछ अलग ही प्लान है, अपने बेटे को लाइन पर लाने के लिए उन्होंने अच्छी क्वालिटी के झाड़-फूँक करने वाले का इंतज़ाम कर लिया है। “हम लोग तो सोच रहे थे कि इंडिया के हारने के बाद काम-धंधे पर ध्यान देगा लेकिन ये लड़का तो कल फिर से टीवी के सामने बैठ गया, बिना झाड़-फूँक के ठीक नहीं होगा ये, मैं अनुभव से बता रहा हूँ बेटा!” -टिकेश के पिताजी ने उसे लात से मारते हुए कहा।



ऐसी अन्य ख़बरें