Sunday, 8th December, 2019

चलते चलते

अमित शाह की 'जुगाड़' लगाने वाली शक्ति हुई कम, धार लगवाने ऋषभ पंत के पास पहुँचे

02, Dec 2019 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली. सूचना मिली है कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह कल चुपके से ऋषभ पंत के घर गये थे ताकि उनसे जुगाड़ लगाने के कुछ टिप्स ग्रहण कर सकें। शाह ने एक घंटे तक पंत से गहरी ट्रेनिंग ली और यह भी पूछा कि वो हर बार टीम इंडिया में कैसे सलेक्ट हो जाते हैं? उधर, पंत ने भी शाह को कई अनमोल टिप्स दिये जो राजनीति में जुगाड़ लगाने के काम आएँगे।

pant-shah
पंत को सैल्यूट करते शाह

दरअसल, गृहमंत्री अमित शाह, जुगाड़ लगाने के मामले में देश के सबसे धाँसू राजनेता माने जाते हैं, अपनी इन्हीं कला की बदौलत उन्होंने कई राज्यों में बीजेपी की सरकार बनवा ली थी।

हालाँकि महाराष्ट्र के चुनाव में उनकी इस छवि को गहरा धक्का लगा है, शिवसेना के आगे उनकी एक नहीं चली और सबसे बड़ी पार्टी होने के बावजूद वो अपनी पार्टी सत्ता में नहीं बिठा पाए। उनसे विधायकों का जुगाड़ हो ही नहीं पाया।

इस घटना ने पार्टी के साथ-साथ स्वयं अमित शाह को भी सोचने पर विवश कर दिया था। “लगता है मेरी जुगाड़ लगाने की शक्ति कम होती जा रही है, इतना छोटा सा काम नहीं कर पाया मैं! लगता है इसका भी रिचार्ज करवाना पड़ेगा!” -ऐसा सोचते हुए उन्होंने उस आदमी की तलाश शुरू कर दी जो उनसे भी बड़ा जुगाड़ू हो।

उनकी यह खोज टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्लेबाज, ऋषभ पंत के रूप में ख़त्म हुई जो वर्तमान में देश के नंबर वन जुगाड़ू हैं। ऋषभ पंत ने बार-बार टीम में सलेक्ट होकर एक अलग ही मुकाम हासिल किया है। बस फिर क्या था, शाह अपनी स्किल को धार देने के लिए पंत के पास पहुँच गये।

बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने इस बारे में बात करते हुए कहा कि, “देखिए! अध्यक्ष जी ऋषभ पंत से रिफिल करवाने गये थे! अब देखना, झारखंड या कर्नाटक में विधायकों की कमी पड़ गयी तो वो पालक झपकते ही विधायकों का जुगाड़ कर देंगे!”



ऐसी अन्य ख़बरें