Friday, 19th October, 2018

चलते चलते

"अमिताभ को भी देंगे 'दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड' पर पहले वो व्हील चेयर पे तो पहुँच जायें!" -राठौड़

11, Oct 2018 By बगुला भगत

मुंबई. केंद्र सरकार ने फिलहाल बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन को दादा साहेब फ़ाल्के अवॉर्ड देने से इनकार कर दिया है। सूचना एवं प्रसारण मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ का कहना है कि “अभी बिग बी को ये अवॉर्ड देने का सही वक़्त नहीं है।” राठौड़ साब ‘रेस-3’ के पीड़ितों को चेक वितरित करने के बाद पत्रकारों से बात कर रहे थे।

amitabh
व्हील चेयर पर अवॉर्ड का इंतज़ार करते अमिताभ

उन्होंने कहा कि “अभी तो अमिताभ जी को ठीक-ठाक दिखायी दे रहा है और सुनाई भी ठीक दे रहा है, तो इतनी जल्दी अवॉर्ड कैसे दे दें! बस एक बार वो लोगों को पहचानना और चलना-फिरना बंद कर दें, हम अवॉर्ड दे देंगे!”

“लेकिन उस उम्र में अवॉर्ड देने का क्या फ़ायदा, जब इंसान चलने-फिरने से भी मोहताज़ हो जाये!” -इस सवाल पर राठौड़ जी ने कहा, “आप समझ क्यों नहीं रहे! अगर हमने उन्हें ये अवॉर्ड अभी दे दिया तो उन्हें पता चल जायेगा कि हमने उन्हें क्या दिया है। ये पता चलते ही उनमें घमंड आ जायेगा और हम नहीं चाहते कि कोई आदमी घमंडी बने।”

“मनोज कुमार जी को भी आजकल कुछ याद नहीं रहता, तो क्या उन्हें दिया जायेगा?” -रिपोर्टर ने फिर सवाल किया तो वो झुंझलाते हुए बोले, “मैंने कहा ना आपको! सिर्फ़ याद्दाश्त जाने से कुछ नहीं होता। व्हील चेयर का क्राइटेरिया भी तो फुलफिल करना पड़ेगा!”

“और ये नियम कोई हमने तो बनाये हैं नहीं! आज़ादी के बाद से ही ये ‘व्हील चेयर’ वाली परंपरा चली आ रही है। आपको पता है, इस नियम की वजह से हमें शशि कपूर के लिये कितने साल इंतज़ार करना पड़ा?” -उन्होंने रिपोर्टर से उल्टे सवाल पूछते हुए कहा।

“लेकिन सर, नियम भी तो कभी ना कभी बदलते ही हैं!”, यह सुनकर राठौड़ साब थोड़ी देर के लिये सोच में पड़ गये, फिर बोले, “चलो ठीक है! एक काम कर लेते हैं! अवॉर्ड लेते समय अमिताभ रस्म अदायगी के लिए थोड़ी देर के लिये व्हील चेयर पे बैठ जायें, फ़ोटो-वोटो खिंचवा लें। फिर स्टेज से उतर कर जैसे मर्ज़ी वैसे जायें, हमें कोई प्रॉब्लम नहीं है!”



ऐसी अन्य ख़बरें