Friday, 19th October, 2018

चलते चलते

ठग्स ऑफ़ हिंदुस्तान के शो में बाँटे जाएँगे Lays चिप्स के पैकेट, मिलेगा ठगी का असली अनुभव

01, Oct 2018 By Guest Patrakar

मुंबई. सितारों से भरी बॉलीवुड फ़िल्म ‘ठग्स ऑफ़ हिंदुस्तान’ कुछ दिनों में रिलीज होने वाली है। बताया जाता है कि यह फिल्म 17वीं शताब्दी के ठगों के बारे में है, यानि कि अंग्रेज़ों के बारे में! लेकिन इस फिल्म की रिलीज से पहले 21वीं शताब्दी के ‘ठग’ एक्टिव हो गए हैं। दरअसल, फिल्म देखने आये दर्शकों को ‘4D’ अनुभव देने के लिए मल्टीप्लेक्स वालों ने Lays के चिप्स का सहारा लिया है, जब दर्शक पाँच रुपये का चिप्स बीस रुपयों में खरीदेंगे तो उन्हें असली ठगी का ‘4D’ अनुभव हो जाएगा।

Thugs-of-Hindustan4
8 नवंबर की रिलीज पर हो रहा है पंगा

इस महान योजना की जानकारी देते हुए एक फ़िल्म विक्रेता सुभाष चोपड़ा ने बताया कि “हमारी कोशिश रहती है कि दर्शकों को फिल्म असली लगे और वो कहानी से जुड़ जाएँ! चूँकि इस फ़िल्म का नाम ‘ठग्स ऑफ़ हिंदुस्तान’ है, तो हमने भी उन्हें ठगने का पूरा प्लान बना लिया है!”

जैसा कि आपको मालूम है कि ठगने के मामले में चिप्स कंपनियों की बराबरी कोई नहीं कर सकता, वो दो रुपए के चिप्स डालकर बाक़ी पैसों की हवा डाल देते हैं! हम भी उसी का सहारा ले रहे हैं!”

आठ तारीख को हम बीस-बीस रुपयों में चिप्स बेचेंगे, समोसा वाले सौ रुपये में बेचेंगे, पॉपकॉर्न वाले तो अपने बाप को भी लूट लेते हैं! कुल मिलाकर उन्हें ठगी का जीता-जागता अनुभव हो जाएगा! चारों तरफ से सिर्फ लूट ही लूट! है कि नहीं 4D?” -चोपड़ा साब ने हँसते हुए बताया। जब हमने उनसे पूछा कि पाँच रुपये की चिप्स बीस रुपये की कैसे हो जाती है? तो उन्होंने जवाब दिया कि “This is beyond science.”

वैसे इससे पहले भी मल्टीप्लेक्स के मालिक दर्शकों को वास्तविक अनुभव देने के लिए कई हथकंडे अपना चुके हैं। ‘फूटपाथ’ मूवी के समय अल्ताफ़ राजा और चंद्रचूड़ सिंह को थिएटर में बैठाया गया था, ताकि दर्शकों को सही में लगे कि वो फूटपाथ पर बैठे हैं! वहीं ‘टॉयलेट एक प्रेम कथा’ में 4D अनुभव देने के लिए लोगों के हाथ में पाकिस्तान के झंडे पकड़वा दिए गए थे ताकि उन्हें टॉयलेट के पास होने का एहसास होता रहे।

पहले तो यह प्रयोग काम कर गया लेकिन क्या अब की बार मोदी सरकार यह ट्रिक काम करेगी? यह तो आठ तारीख को ही पता चलेगा जब फिल्म रिलीज होगी!



ऐसी अन्य ख़बरें