चलते चलते

'बाग़ी-3' को एनिमेशन फ़िल्म समझ रहे हैं अमेरिकी दर्शक, टाइगर श्रॉफ़ के एक्सप्रेशंस की वजह से हो गया काँड!

09, Mar 2020 By बगुला भगत

मुंबई. टाइगर श्रॉफ़ की नयी फ़िल्म ‘बाग़ी-3’ एक भयंकर कन्फ्यूजन का शिकार हो गयी है। अमेरिकी दर्शक इस फ़िल्म को एनिमेटेड फ़िल्म समझ रहे हैं और वहाँ के सेंसर बोर्ड ने भी इसे एनिमेशन का ही सर्टिफ़िकेट दिया है। बताया जा रहा है कि यह सारी ग़लतफ़हमी टाइगर श्रॉफ़ के एक्सप्रेशंस की वजह से हुई है।

tiger-shroff-baaghi
टाइगर श्रॉफ़ के सदाबहार एक्सप्रेशंस

जब फ़िल्म के प्रोड्यूसर-डायरेक्टर साजिद नाडियाडवाला और अहमद ख़ान ने अमेरिका से इस बात पर आपत्ति जताई तो अमेरिकी सेंसर बोर्ड के चीफ़ पीटर पार्कर ने सफ़ाई देते हुए कहा कि इसमें उनकी कोई ग़लती नहीं है।

पार्कर ने प्रोड्यूसर-डायरेक्टर को फ़िल्म चलाकर दिखाई और बोले, “आप ख़ुद ही बताओ, ये कहाँ से इंसानों वाली फ़िल्म लग रही है? Just tell me!”

“देखो अपने हीरो को! फ़र्स्ट सीन से लास्ट सीन तक पूरी मूवी में एक जैसे एक्सप्रेशंस हैं। Sorry to say but…इससे अच्छे एक्सप्रेशंस तो हमारे एनिमेटेड कैरेक्टर्स के होते हैं!”

अंतिम समाचार लिखे जाने तक मामले का कोई समाधान नहीं निकल पाया था और दोनों पार्टियाँ अपनी-अपनी दलीलें दे रही थीं।

हालांकि, इस ग़लतफ़हमी की वजह से बाग़ी-3 को फ़ायदा ही हो रहा है क्योंकि अमेरिका में एनिमेटेड फ़िल्मों का मार्केट बहुत बड़ा है और दूसरी बात ये कि अमेरिकी दर्शक इसे भारत की पहली वॉर एनिमेटेड फ़िल्म समझकर एन्जॉय कर रहे हैं।



ऐसी अन्य ख़बरें