Tuesday, 19th November, 2019

चलते चलते

जिसने भी ‘बुम्बरो ओ बुम्बरो’ गाना यूट्यूब पर नहीं देखा है, उनका फ्री इंटरनेट छीन लिया जाए: सुप्रीम कोर्ट

13, Dec 2018 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली.  एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए सबसे बड़ी अदालत ने आदेश दिया है कि जिन्होंने भी यूट्यूब पर ‘बुम्बरो ओ बुम्बरो..’ वाला गाना नहीं देखा है, उनका फ्री इंटरनेट छीन लिया जाए और उनके मोबाइल को बंगाल की खाड़ी में फ़ेंक दिया जाए। कोर्ट के आदेश के बाद सरकार ने ऐसे लोगों का इंटरनेट कनेक्शन छीनने की तैयारी शुरू कर दी है।

preity
कम से काम एक बार देखना पड़ेगा!

हालाँकि, केंद्र सरकार की ओर से उपस्थित हुए सरकारी वकील इस फैसले का विरोध कर रहे थे, लेकिन जज साब के सामने उनकी एक ना चली और अब मज़बूरी में मोदी सरकार को इसे इम्प्लीमेंट करना ही पड़ेगा।

दरअसल, यह गाना उस दशक का मशहूर गाना हुआ करता था और लगभग सबको पसंद भी आता था। आज भी लोग एक ना एक बार शौक से यह गाना सुनते ही हैं। कोर्ट को शक है कि जो बंदा-बंदी यह गाना यूट्यूब पर नहीं देख रहे हैं, उनकी दिमागी हालत ठीक नहीं है।

“जज साब ने एक हज़ार पन्नों के अपने आदेश में लिखा है कि, “90 के दशक के सारे बच्चे अब जवान हो गए हैं, इसके बावजूद अगर वो यह गाना यूट्यूब पर नहीं देख रहे हैं तो ये बड़े शर्म की बात है!”

“इन-फैक्ट प्रीती ज़िंटा का नाम आते ही सिर्फ दो ही चीज़ें याद आती हैं, एक IPL और दूसरा ‘बुम्बरो ओ बुम्बरो..’ वाला गाना!”

“गाना भी अच्छा है, डांस भी प्रीति ने अच्छा किया है, फिलीम भी ठीक-ठाक थी, तो फिर लोग क्यों नहीं देखना चाहते इसे? क्या ऐसे लोगों को इंटरनेट कनेक्शन रखने का हक़ है? कदापि नहीं!

“जिसने भी इस वीडियो को यूट्यूब पर नहीं देखा है उनका कनेक्शन बंद करो, मोबाइल समंदर में फ़ेंक दो और एक महीने के भीतर स्टेटस रिपोर्ट पेश करो!” -कोर्ट ने सरकारी वकील को घूरते हुए कहा।



ऐसी अन्य ख़बरें