Friday, 10th April, 2020

चलते चलते

शाहीन बाग को खाली कराने के लिए 'थप्पड़' की स्क्रीनिंग करवा सकती है भारत सरकार

15, Mar 2020 By Guest Patrakar

नयी दिल्ली. आख़िरकार केंद्र सरकार ने शाहीन बाग़ को ख़ाली कराने का तरीका ढूँढ निकाला है, वो भी शांतिपूर्वक तरीके से, बिना आर्मी बुलाए! सुनने में आ रहा है कि सरकार ने आंदोलन में बैठे लोगों को ‘तापसी’ की नयी पिक्चर ‘थप्पड़’ दिखाने का फ़ैसला किया है।

thappad
है हिम्मत तो देख लो!

विशेषज्ञों का मानना है कि ‘थप्पड़’ देखने के बाद लोग वहाँ से फ़ौरन भाग जाएँगे और शाहीन बाग ख़ाली हो जाएगा। क्या है पूरा मामला आइये जानते हैं-

एक वरिष्ठ वकील सुकेश चोटरानी ने हमें बताया “सरकार के पास इससे अच्छा कोई और रास्ता नहीं बचा था, ना लोग हट रहे थे ना सुप्रीम कोर्ट की बात सुन रहे थे! सरकार आर्मी भी नहीं लगा सकती थी। इसलिए सरकार ने ये वाला आईडिया अपनाया है, बड़ी स्क्रीन का जुगाड़ हो गया है, शाहीन बाग़ के दोनों तरफ लगाकर अभी ‘थप्पड़’ शुरू करवाता हूँ! फिल्म शुरू होने के दस मिनट बाद ही आपको ये पूरा इलाका सुनसान दिखाई देगा!” -कहते हुए सुकेश रिमोट में सेल डालने लगा।

हालाँकि मुस्लिम लीडरों ने इसके ख़िलाफ आवाज़ उठाने का फ़ैसला किया है। एक मुस्लिम वकील जावेद टोरानी ने कड़ा विरोध जताते हुए कहा- “हिटलर के होलोकास्ट में गैस का इस्तेमाल होता था, यहाँ ‘थप्पड़’ की सीडी चलाकर हमें भी वैसे ही ट्रीट किया जा रहा है! ये अत्याचार नहीं तो और क्या है? हम ऐसा नहीं होने देंगे, इस फ़ैसले के ख़िलाफ़ सुप्रीम कोर्ट तक जाएँगे, स्टे आर्डर लाकर रहेंगे!”

सूत्रों की मानें तो सरकार का यह फैसला सुनकर ही काफ़ी लोगों ने शाहीन बाग़ छोड़ दिया है, देखते हैं आगे क्या होता है?



ऐसी अन्य ख़बरें