Thursday, 2nd April, 2020

चलते चलते

कोरोना वायरस को बेस्ट डेब्यू का अवार्ड दे दिया फिल्मफेयर वालों ने, हुआ हंगामा

18, Feb 2020 By Ritesh Sinha

मुंबई. बॉलीवुड के अवार्ड फंक्शन्स में अवार्ड ‘कैसे’ और ‘किसे’ दिये जाते हैं ये किसी से छिपा हुआ नहीं है, इस साल के फिल्मफेयर अवार्ड को ही ले लीजिये जो शुरू से ही विवादों में घिरा हुआ है! ‘गली बॉय’ जैसी औसत दर्जे की फिल्म को तेरह अवार्ड एक साथ पकड़ा दिये गए हैं, ऐसा लगता है कि ‘पहले आओ, पहले पाओ!’ के सिद्धांत को फिल्मफेयर वाले ए.राजा से भी ज्यादा जूनून के साथ फॉलो कर रहे हैं।

filmfare
सबको मिलेगा अवार्ड!

हालाँकि इस समारोह में एक ऐसा भी अवार्ड था जिस पर किसी की नजर नहीं पड़ी और वो है ‘बेस्ट डेब्यू’ का अवार्ड! फिल्मफेयर वालों ने यह पुरुस्कार ‘कोरोना’ वायरस के नाम कर दिया है, कोरोना वायरस की तरफ से उनके भारतीय प्रतिनिधि ‘डेंगू’ महाराज ने यह अवार्ड प्राप्त किया। सब लोग ‘गली बॉय’ की आलोचना में इतने व्यस्त हो गए कि ‘कोरोना’ को मिले अवार्ड पर ध्यान देना ही भूल गए।

जैसे ही ज्यूरी ने अवार्ड की घोषणा की, बॉलीवुड के विभिन्न अभिनेता/अभिनेत्रियों ने फिल्मफेयर के इस निर्णय का जमकर विरोध किया! उनका कहना था कि सिर्फ सुर्खियाँ बटोरने के लिए कोरोना वायरस को जबरदस्ती अवार्ड पकड़ाया जा रहा है ताकि टीवी-अखबारों पर अच्छी हेडलाइन बने और ‘फिल्मफेयर’ की TRP बढे!

अनन्या पांडे ने तो करण जौहर के पास जाकर शिकायत भी कर दी लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ! उधर, चंकी पांडे भी अपनी नस काटने की धमकी दे रहे थे!

अपने इस निर्णय का बचाव करते हुए ‘फिल्मफेयर’ के प्रवक्ता ने सफाई दी है कि, “देखिए! हमें पता है कि बेस्ट डेब्यूडेंट का अवार्ड किनको दिया जाता है, वो कलाकार जो पहली बार परदे पर नजर आए और जनता के दिलों में छाप छोड़ दे, उसे ही यह अवार्ड दिया जाता है!

पूरे दो मिनट तक दिमाग लगाने के बाद हमने पाया कि कोरोना वायरस से ज्यादा धमाकेदार डेब्यू किसी ने नहीं की है, बंदा अभी भी अपने काम में लगा हुआ है! अब आप ही बताइये, उसे अवार्ड मिलना चाहिए या नहीं!” -उन्होंने कमला पसंद थूकते हुए कहा।



ऐसी अन्य ख़बरें