Tuesday, 17th September, 2019

चलते चलते

मंगलयान ने फिर किया 'इसरो' से संपर्क, अक्षय की फिल्म पर तुरंत रोक लगवाने की प्रार्थना की

18, Aug 2019 By Fake Bank Officer

बैंगलोर. ऐसे समय में जब अक्षय कुमार की फ़िल्म ‘मिशन मंगल’ रिलीज हो चुकी है, 2013 में मंगल ग्रह पर भेजे गए असली मंगलयान ने इसरो के वैज्ञानिकों को सिग्नल भेज कर प्रार्थना की है कि इस फ़िल्म के प्रदर्शन पर तत्काल रोक लगाई जाए।

mission-mangal
साइंस के नाम पर कॉमेडी है!

कल रात जब इसरो के वैज्ञानिक अपना काम निपटा कर मिशन मंगल का ट्रेलर देखकर हँस रहे थे, तभी उनकी स्क्रीन पर अर्जेंट कैप्शन के साथ एक मैसेज आया। पहले तो वैज्ञानिकों को लगा कि शायद बॉस ओवरटाइम करने के लिए बोल रहे हैं लेकिन ध्यान देने पर मालूम हुआ कि ये तो सीधा मंगल ग्रह से सिग्नल आ रहा है।

जब वैज्ञानिकों ने सिग्नल को डिकोड किया तो पता चला कि जिस दिन मिशन मंगल का पहला ट्रेलर आया था, उसी दिन मंगलयान के सभी पैलोड मे खराबी आ गयी थी। खासकर पूड़ीयाँ तलने वाला सीन देखकर तो यान का मीथेन सेंसर भी बेकार हो गया था। कुछ दिन पहले जब दूसरा ट्रेलर आया तो मंगलयान की चीख ही निकल पड़ी और उसने काम करना बंद कर दिया।

मंगलयान ने अपने संदेश में साफ कर दिया है कि यदि जल्द ही इस फ़िल्म का प्रदर्शन नही रोका गया तो यान अंतरिक्ष मे कूद कर खुदकुशी कर लेगा और मंगल ग्रह की रंग बिरंगी तस्वीरे आना बंद हो जाएगी।

फ़ेकिंग न्यूज़ ने तीन पत्ती खेल रहे कुछ वैज्ञानिकों से बात की तो पता चला कि ‘मिशन मंगल’ फ़िल्म के रिलीज होने से मंगल ग्रह पर जीवन की बची-खुची संभावना भी समाप्त हो गई है।

हालाँकि वैज्ञानिक एक कॉमेडी फिल्म के तौर पर मिशन मंगल को देखने की सलाह दे रहे हैं पर मंगलयान की सुरक्षा की खातिर वो फ़िल्म का प्रदर्शन रोकने का भी पूरा प्रयास करेंगे।



ऐसी अन्य ख़बरें