Thursday, 15th November, 2018

चलते चलते

अप्रेजल की माँग कर रहे कर्मचारियों को बॉस ने पकड़ाया 'फिजेट स्पिनर'

02, Apr 2018 By Ritesh Sinha

गुरुग्राम. जेटलाइफ कंपनी के ऑफिस में उस समय सन्नाटा छा गया, जब बॉस ने अप्रेजल की माँग कर रहे कर्मचारियों को फिजेट स्पिनर (fidget spinner) पकड़ा दिया। दरअसल, एम्पलॉयीज चाहते थे कि इस साल अपने बॉस मि. सरकेश्वर से कुछ बोनस ले लिया जाए। यही प्लान लेकर वे उनके केबिन में जाकर मूर्तियों की तरह खड़े हो गए। उन्हें इस तरह चुपचाप खड़े हुए देखकर बॉस ने पूछा- “क्या बात है? आज सब लोग एक साथ?”

fidget spinner1
अप्रेजल में मिले फिजेट स्पिनर को घुमाते सभी एम्प्लोयीज

उनका सवाल सुनकर सबसे आगे खड़े गौरव खन्ना ने कहा- “सर! अप्रैल आ गया है! तो हम लोग…” गौरव ऐसा कह ही रहा था कि बॉस ने उसे बीच में ही टोक दिया और सामने मेज पर रखे कैलेण्डर का पन्ना पलटाते हुए बोले- “ओह्ह.. मैं तो भूल ही गया था! अप्रैल आ गया है और मेरे कैलेण्डर में अभी भी मार्च चल रहा है! अच्छा किया जो तुम लोगों ने याद दिला दिया!”

मि. सरकेश्वर को बनता हुआ देखकर सब उन्हें मन ही मन गालियाँ देने लगे- “देखो! कैसे बन रहा है! इसको पता है हम लोग क्यों आए हैं, फिर भी!” इसी बीच मौका देखकर गौरव ने एक साँस में ही सब कुछ बोल दिया- “सर! अप्रेजल टाइम आ गया है तो हम उसी के लिए आए हैं! 20% हाइक मिल जाए तो भी बहुत है!”

एम्पलॉयीज की यह माँग सुनकर मि. सरकेश्वर ने एक लंबी गहरी साँस ली और बोले- “अच्छा तो ये बात है! देखो, अप्रेजल को मारो गोली! मैं तुम लोगों को उससे भी अच्छी एक चीज़ देता हूँ! ये ‘फिजेट स्पिनर’ पकड़ो और घुमाते रहो! इससे स्ट्रेस भी कम होता है और फालतू की चीज़ों पर ध्यान भी नहीं जाता!” -कहते हुए उन्होंने सब को एक-एक स्पिनर थमा दिया।

उन्हें लग गया कि इसके सामने बीन बजाने से कोई फायदा नहीं है और सब के सब उस ‘चकरी’ को घुमाते हुए चुपचाप बाहर आ गए। बाद में मनीष कौल नाम के एम्पलॉयी ने हमें बताया कि “साला! सबसे बड़ी दुःख की बात तो ये है कि सारे फिजेट स्पिनरों पे ‘Made in China’ लिखा हुआ है!” -कहते हुए मनीष की आँखों से आँसूं टपक पड़े।



ऐसी अन्य ख़बरें