Sunday, 8th December, 2019

चलते चलते

दूसरों से बीड़ी माँगकर पीने वाला बिहारी युवक 'एयर इंडिया' को खरीदने पर अड़ा, लगाई ढाई सौ रुपये की ऊँची बोली

17, Nov 2019 By Ritesh Sinha

ब्यूरो. एयर इंडिया के विनिवेश के बारे में बात करते हुए केंद्रीय नागरिक विमानन मंत्री, हरदीप सिंह पुरी ने सूचना दी है कि, “हमें ग्राहकों से अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है, लोग बढ़-चढ़कर बोली लगा रहे हैं, पहले एक बिडर ने डेढ़ सौ रुपये की बोली लगाई थी जो अब बढ़कर ढाई सौ रुपये तक पहुँच गयी है! हमें आशा है कि अभी ये बोली और ऊपर जाएगी!”

air-india
ललित का विशेष विमान

मंत्री जी ने जैसे ही ‘ढाई सौ रुपये’ कहा, पत्रकारों के होश उड़ गये। बाद में पता चला कि समस्तीपुर के रहने वाले ललित कुमार ने यह ऊँची बोली लगाई है।

ललित, बिहार का एक होनहार नौजवान है जो पहले सरकारी नौकरियों के पीछे भागा करता और दूसरों से बीड़ी माँगकर पीता था! लेकिन एक दिन उसने सोचा कि दर-दर की ठोकरें खाने से अच्छा है कि खुद का बिजनेस शुरू किया जाए!

बस, फिर क्या था, उसने ‘अमर सिंह’ का नाम लेकर बिजनेस की दुनिया में छलांग लगा दी। इसी दौरान उसे पता चला कि केंद्र सरकार ‘एयर इंडिया’ को बेच रही है, उसने आव देखा ना ताव और ढाई सौ रुपये की सबसे ऊँची बोली लगा दी। इतनी ऊँची बोली सुनकर बाकी ‘बिडर’ सिंगापुर भाग गये।

हमने भी ललित को ढूँढ निकाला है, “तुमने इतनी ऊँची बोली कैसे लगा दी?” -ऐसा पूछे जाने पर उसने बताया कि, “अगर बिजनेस करना है तो इतना रिस्क तो लेना ही पड़ेगा ना, अब तो एयर इंडिया मेरी झोली में ही समझो!

ये एक बार हाथ लग गया ना तो ‘एविएशन’ इंडस्ट्री में तूफान मचा दूँगा! मैं साबित कर दूँगा कि एयर इंडिया सफ़ेद हाथी नहीं है! नेताओं और बाबूओं की फ्री यात्रा पहले दिन से बंद! देखता हूँ कैसे मुनाफा नहीं होता?” -कहते हुए ललित, परिचालन व्यय कम करने के बारे में रिसर्च करने लगा।



ऐसी अन्य ख़बरें