Saturday, 17th November, 2018

चलते चलते

'डॉलर की बढ़ती कीमतों से फायदा होता है!' -यह साबित करने का काम मोदी ने जेटली को सौंपा

31, Aug 2018 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली. विज्ञान भवन में आयोजित हुए एक सादे समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने, वित्त मंत्री अरुण जेटली को, एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी सौंप दी है। वित्त मंत्री ने भी खुले मन से इस चैलेंज को स्वीकार किया और वादा किया कि वो इस ‘टास्क’ को पूरा करने के लिए जी-जान से जुट जाएँगे! दरअसल, मोदी सरकार ने ‘डॉलर की कीमत बढ़ने से देश को फायदा होता है!’ यह साबित करने का काम जेटली जी के कंधों पर डाल दिया है। इसका मतलब यह हुआ कि चार-पाँच दिनों में वित्त मंत्री जी यह साबित कर देंगे कि रुपये की घटती वैल्यू से घबराने की जरूरत नहीं है!

modi-jaitley
वित्त मंत्री को यह साबित करने के टिप्स देते मोदी जी

इस कार्यक्रम में कैबिनेट के सभी मंत्रीयों सहित पार्टी के कई नेतागण उपस्थित थे! समारोह को संबोधित करते हुए मोदीजी ने कहा कि “मुझे जेटली जी के टैलेंट और अनुभव पर पूरा भरोसा है! पिछली बार इन्होने साबित कर दिया था कि GST के आने से वस्तुओं के दाम कम हो जाएँगे! और मुझे पूरा विश्वास है कि इस बार भी वो साबित कर देंगे कि डॉलर की कीमत बढ़ने से हमें कोई नुकसान नहीं होता है!”

“फिर भी अगर जेटली जी से कोई गलती हो जाती है तो मैं तो बैठा ही हूँ! मैं मैदान में कूद जाऊँगा और साबित कर दूँगा कि ‘डॉलर’ नीचे आ रहा है, ऊपर नहीं!” -मोदीजी ने आगे कहा। यह सुनकर सामने बैठे रविशंकर प्रसाद, जोर से तालियाँ बजाने लगे।

भाषण के बीच में ही उन्होंने वित्त मंत्री जी से पूछा “इस काम को पूरा करने के लिए किसी और की जरूरत हो तो बता दीजिए? संबित, GVL, या और कोई? मैं उनको आपके पीछे लगा दूँगा!” -यह सवाल सुनकर जेटली जी ने बैठ-बैठे ही इशारा किया “नहीं-नहीं मैं अकेला ही ये साबित कर सकता हूँ!” उनका आत्मविश्वास देखकर मोदीजी ने राहत की साँस ली।

इसके बाद दो-चार अन्य नेताओं ने भी भाषण दिया। भाषण के अंत में रविशंकर प्रसाद को मंच पर बुलाया गया और उनको ‘पेट्रोल-डीजल के रेट बढ़ने से फायदा होता है!’ यह साबित करने का महान कार्य सौंप दिया गया। प्रसाद जी ने भी यह चैलेंज दो मिनट में स्वीकार कर लिया! अब देखने वाली बात यह है कि ये दोनों धुरंधर अपना काम ठीक से कर पाते हैं या नहीं? या इस छोटे से काम के लिए भी मोदीजी को ही आना पड़ेगा!



ऐसी अन्य ख़बरें