Thursday, 21st November, 2019

चलते चलते

एयर इंडिया की आर्थिक स्थिति खराब, अब मोदीजी को सिर्फ नेपाल तक ले जाने का बजट शेष

27, Aug 2019 By Fake Bank Officer

नयी दिल्ली. सार्वजनिक क्षेत्र की उड्डयन कंपनी एयर इंडिया की आर्थिक स्थिति ठीक नही चल रही है। कंपनी के पास वेतन देने के भी पैसे नहीं बचे हैं। ऐसे में कंपनी के प्रमुख ‘लो-हानि’ जी ने साफ कर दिया है कि अब वो मोदीजी को दुनिया भर की सैर नही करा पाएंगे। अब उनके पास इतना ही बजट है कि मोदीजी को साल में एक बार नेपाल तक ले जा सकते हैं।

visit-modi
एयर इंडिया का तेल निकालते मोदीजी

सूत्रों के मुताबिक यह ‘सरकारी सफ़ेद हाथी’ वैसे तो काफी समय से ही घाटे में चल रही है पर पिछले कुछ सालों में मोदीजी की अनाप-शनाप विदेश यात्राओं ने तो कंपनी की कमर ही तोड़ दी। मोदीजी को उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक ले जाने के लिए कंपनी ने पानी की तरह इतना जेट फ्यूल बहा दिया कि अब कंपनी के पास तेल का लाखों डॉलर का कर्जा चढ़ चुका है।

एयर इंडिया की इस दयनीय स्थिति को देखते हुए सरकार ने उसे निजी कंपनी को बेचने का फैसला किया है। जो भी निजी विमानन कंपनी एयर इंडिया को खरीदेगी उसके सामने एक ही शर्त रखी गयी है, डील में 50-100 रुपये की छूट दी जा सकती है पर एयर इंडिया को खरीदने वाली कंपनी को मोदीजी की सभी प्रकार की विदेश यात्राओं का खर्चा खुद उठाना पड़ेगा।

अब देखना यह है कि कौन सी कंपनी एयर इंडिया को खरीदने का साहस जुटाती है। इस बीच ख़बर् आई है कि जेट फ्यूल खरीदने में असमर्थ एयर इंडिया के कर्मचारी कंपनी को चलाने के लिए अपनी गाड़ियों से पेट्रोल निकाल- निकालकर दान कर रहे हैं।  कुछ लोग तो बिना फ्यूल के खड़े विमानों को धक्का मारकर भी चलाने को तैयार हैं। सबकी बस एक ही इच्छा है कि किसी तरह कंपनी चलती रहे।



ऐसी अन्य ख़बरें